वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (Virtual Private Network) का अर्थ

यह एक व्यक्तिगत नेटवर्क है जिसमें नेटवर्क के कुछ उपकरणों के बीच संचार इंटरनेट के माध्यम से स्थापित किया जाता है जबकि शेष उपकरण विशेषीकृत लाइनों द्वारा जड़े होते हैं। इसमें सूचना की गोपनीयता बनाये रखने के लिए कोडिंग तकनीक (Encryption) का प्रयोग किया जाता है।

इंट्रानेट (Intranet) 

इंट्रानेट निजी या संस्थागत उपयोग के लिए किसी ऑफिस या संस्था के भीतर स्थापित कम्प्यूटर नेटवर्क है जो सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए इंटरनेट प्रोटोकॉल (TCP/IP) तकनीक का उपयोग करता है।

स्पष्टतः, इंट्रानेट इंटरनेट का निजी (Private) रूप है। केवल संस्था के सदस्य या कर्मचारी ही इंट्रानेट की सुविधाओं का उपयोग कर सकते हैं। गेटवे, फायरवाल या कोडिंग तकनीक का प्रयोग कर किसी अनधिकृत व्यक्ति को इंट्रानेट का उपयोग करने से वंचित रखा जाता है। अतः इंट्रानेट वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क का एक उदाहरण है।

 एक्स्ट्रानेट (Extranet)

इंट्रानेट की तरह ही एक्स्ट्रानेट भी निजी या संस्थागत उपयोग के लिए स्थापित एक कम्प्यूटर नेटवर्क है जो इंटरनेट प्रोटोकॉल का उपयोग करता है। लेकिन एक्स्ट्रानेट में संस्था के सदस्य व कर्मचारियों के अतिरिक्त अन्य उपयोगकर्ताओं को भी एक सीमा तक नेटवर्क व डाटा के उपयोग की अनुमति दी जाती है। एक्स्ट्रानेट का प्रयोग करने के लिए उपयोगकर्ता को एक विशेष Username तथा Password प्रदान किया जाता है। _ किसी व्यवसायिक बैंक का निजी नेटवर्क एक्स्ट्रानेट का उदाहरण है। कोई भी उपभोक्ता Username तथा Password का उपयोग कर इंटरनेट के जरिए बैंक के नेटवर्क में घुस सकता है तथा अपनी व्यक्तिगत जानकारियां देख सकता है। लेकिन वह अपनी व्यक्तिगत जानकारी के अलावा और कोई सूचना प्राप्त (access) नहीं कर सकता।

Pin It on Pinterest

Share This